भारत एक एसा देश है जहाँ थोड़ी थोड़ी दूर जा कर आप को एक नई जगह और एक नई भाषा का एहसास होगा भारत में इसी कारण से कुल 28 राज्यों का निर्माण किया गया है और इन्ही 28 राज्यों में से एक राज्य है राजस्थान जिसे राजाओं का स्थान भी कहा जाता है. बाकि राज्यों की तरह ही राजस्थान भी एक खुशहाल और सफल राज्य है जिस का कुल क्षेत्र फल 342239 वर्ग किलोमीटर है, शेत्र फल की दृष्टि से राजस्थान भारत का सब से बड़ा राज्य है इस राज्य में कुल 33 जिले है राजस्थान भारत के उन गिने चुने राज्यों में से एक जो अलग अलग प्रकार से लोगो को अपनी तरफ आकर्षित करता है राजस्थान एक रंग बिरंगा राज्य है. मारवाड़ी भाषा राजस्थान में सब से ज़्यादा बोली जाने वाली भाषा है और यहाँ राजस्थान के लोगों का मुख्य व्यवसाय खेती है. आज हम इस आर्टिकल में राजस्थान से जुड़ी और भी बहुत चीजें जानने वाले है जैसे के राजस्थान का इतिहास, Rajasthan Ki Rajdhani Kya Hai आदि. 

राजस्थान का इतिहास - Rajasthan Ka Itihas

राजस्थान भारत का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है  राजस्थान शब्द का अर्थ " राजाओं का स्थान " है. पहले यहाँ गुर्जर, अहीर, मौर्य, राजपूत, जाट आदि जैसे राजाओं ने राज किया था भारत के संवैधानिक इतिहास में राजस्थान का निर्माण करना एक बहुत ही महत्वपूर्ण उपलब्धि थी राजस्थान का इतिहास 5000 साल पुराना है राजस्थान के इतिहास को 3 हिस्सों में बांटा गया है.

प्राचीन काल 

700 AD में राजपूत वंश की उत्पत्ति हुई और इसी समाये से वो राजस्थान के अलग अलग हिस्सों में रहने लगे इस से पहले राजस्थान बहुत से गणराज्यों का भाग रह चूका था ये मोरिया साम्राज्य का भी हिस्सा रह चुका है.

माध्यम काल

1200 AD में राजस्थान का कुछ हिस्सा मुस्लिम शासकों के अंतर्गत था उन के मुख्य केन्द्रों में अजमेर और नागौर शामिल थे 1300 AD के शुरुआत में राजस्थान का सबसे बड़ा और शक्ति शाली राज्य मेवाड़ था.

आधुनिक काल

मुग़ल सम्राट के कब्ज़ा करने से पहले राजस्थान कभी भी राजनितिक रूप से एकता के सूत्र में नही बंधा। 1707 के बाद मुग़ल शक्ति कम होने लगी और लोगो पर उन का प्रभाव भी कम होने लगा मुग़ल  साम्राज्य के खत्म होते ही मराठा समाज ने राजस्थान पर कब्ज़ा करना चाहा और 1755 में उन्हों ने अजमेर पर कब्ज़ा कर लिया इस के बाद 19 वी शताब्दी में पिंडारी द्वारा इस पर हमला किया गया.

राजस्थान की राजधानी - Rajasthan Ki Rajdhani

राजस्थान का इतिहास जाने के बाद अब हम Rajasthan Ki Rajdhani के बारे में जानने वाले है. राजस्थान की राजधानी का नाम जैपुर है, जिसे गुलाबी शहर के नाम से भी जाना जाता है. जयपुर राजस्थान की राजधानी ही नहीं बल्कि राजस्थान का सब से बड़ा शहर भी है. जयपुर को पिंक सिटी यानि की गुलाबी शहर कहे जाने का सब से बड़ा कारण यहाँ की पुराणी और एतिहासिक इमारतें है यहाँ ज़्यादा तर इमारतों का रंग गुलाबी ही है. इस शहर की नींव 1727 में रखी गई थी  राजा जयसिंह द्वितीय ने इस शहर की नींव रखी थी. ये शहर देश विदेश के सैलानियों को अपनी तरफ आकर्षित करता है तभी तो यहाँ हर साल लाखों लोग घूमने आते है इस शहर के चारों तरफ पहाड़ियों पर किले बने हुए है जो आज भी वहा के योद्धाओं के वीरता की कहानी बयान करते है.

ये शहर चरों तरफ से दीवारों से घिरा हुआ है जिस में प्रवेश करने के लिए 7 दरवाज़े बनाये गए है कुछ समय बाद यहाँ एक और नया दरवाज़ा बनाया गया जिस का नाम न्यू गेट (New Gate) रखा गया ये पूरा शहर क़रीब 6 हिस्सों में बंटा हुआ है. आधुनिक शहरी योजनाकारों द्वारा जयपुर शहर को सब से नियोजित और व्यवस्थित शहरों में से एक माना जाता है. यहाँ के मुख्य उद्योगों में संगमरमर, धातु, हस्त कला, वस्त्र छपाई, पर्यटन आदि शामिल है जयपुर को भारत का पेरिस भी कहा जाता है.

राजा जयसिंह द्वितीय के नाम पर ही इस शहर का नाम जैपुर रखा गया जयपुर भारत के टूरिस्ट सर्किट इंडिया'स गोल्डन ट्रायंगल (India's Golden Triangle) का हिस्सा है इस गोल्डन ट्रायंगल में आगरा, दिल्ली और जयपुर आते है जयपुर में बहुत से पर्यटक स्थल है जैसे हवा महल, जंतर मंतर, सिटी पैलेस, गोविंददेवजी का मंदिर आदि.

जयपुर राजस्थान की राजधानी कब बनी

जयपुर Rajasthan Ki Rajdhani सन 1727 में बनी इस की स्थापना महाराज जयसिंह द्वितीय द्वारा स्थापित की गई. महाराज जयसिंह द्वितीय ने 1699 से 1744 तक जैपुर पर राज किया लेकिन शुरुआत में उन की राजधानी जयपुर नहीं थी शुरुआत में उन की राजधानी एम्बर थी जो की जयपुर से करीब 11 किलोमीटर दूर है पर बाद में यानि की 1727 में जयपुर को राजस्थान की राजधानी घोषित किया गया और आज तक जयपुर ही राजस्थान की राजधानी है.

राजस्थान के पर्यटक स्थल - tourist places of rajasthan

जंतर मंतर

राजस्थान का जंतर मंतर जयपुर में स्थित है इसे महाराज सवाई जयसिंह द्वारा बनाया गया था इस का निर्माण 1724 से 1734 के बीच किया गया यह स्मारक जयपुर शहर के हवा महल और सिटी पैलेस पास बना हुआ है जंतर मंतर बहुत ही लोकप्रिय पर्यटक स्थल है हर साल देश विदेश के बहुत से सैलानी यहाँ घूमने आते है.

सिटी पैलेस

सिटी पैलेस को राजस्थान का सब से बड़ा शाही पैलेस माना जाता है ये पैलेस उदयपुर में स्थित है जिस का निर्माण साल 1559 में महाराणा उदयसिंह ने करवाया था. सिटी पैलेस में बहुत से फिल्मों की शूटिंग हो चुकी है जैसे की गोलियों की रासलीला राम-लीला, गाइड और जेम्स बॉन्ड आदि.

जल महल

राजस्थान की राजधानी जयपुर की भीड़ भाड़ से दूर शांत और शानदार जल में स्तिथ महल जल महल है. जल महल मान सागर झील के बीच में स्थित होने की वजह से इसे वाटर पैलेस भी कहा जाता है राजस्थान में गल और राजपूत शैली की वास्तुकला के मिश्रण से बना महल है जल महल जो आज दुनिया भर के कई पर्यटकों को अपनी तरफ आकर्षित करता है.

हवा महल 

जयपुर के गुलाबी शहर में स्तिथ हवा महल राजपूतों की शाही विरासत का प्रतीक है, राजस्थान की सबसे प्राचीन इमारतों में से एक इमारत है हवा महल. बहुत ही खूबसूरती से बनाया गया हवा महल जयपुर के सबसे प्रसिद्ध पर्यटक स्थलों में से एक है. बहुत सारी खिड़कियां और झरोखे होने की वजह से हवा महल को पैलेस ऑफ़ विंड्स भी कहा जाता है.

पिछोला झील

पिछोला झील राजस्थान के उदयपुर शहर के केंद्र में स्तिथ है ये शहर की सब से बड़ी और पुराणी झीलों में से एक है अपनी शांति और सुंदरता की वजह से ये झील यहाँ आने वाले लाखों पर्यटकों को अपनी तरफ आकर्षित करती है शाम के समय में बहुत ही खूबसूरत दिखने की वजह से यहाँ ज़्यादा तर लोग शाम में बोटिंग करते नज़र आते है.

राजस्थान पर्यटन विकास निगम लिमिटेड यानि RTDC राजस्थान की सभी पर्यटन से संबंधित जानकारी उपलब्ध कराने में मदद करता है विदेशी सैलानी पुरे भारत में सब से ज़्यादा राजस्थान में आते है क्यों के राज्य भारत की  कला एवं आस्था, वेशभूषा और संस्कृति दर्शाती है. 

हम ने जाना

दोस्तों आज हम ने इस आर्टिकल में जाना कि Rajasthan Ki Rajdhani Kya Hai और साथ ही हम ने राजस्थान के इतिहास के बारे में और पर्यटक स्थल के बारे में भी जाना उम्मीद है आप को ये पोस्ट पसंद आई हो राजस्थान भारत का उभरता हुआ राज्य है यहाँ का इतिहास और पर्यटक स्थल राजस्थान को और भी आकर्षित बनाता है यहाँ मौजूद हवा महल, जल महल, सिटी पैलेस, जंतर मंतर आदि जगहों पर देश विदेश से लाखों सैलानी आते है राजस्थान में ऐसे सैलानियों की व्यवस्था काफी अच्छी प्रकार से की जाती है साथ ही राजस्थान से हमे बहुत से ऐसे लोग मिले जिन्होंने देश का नाम रौशन किया है उम्मीद है की आप को राजस्थान राज्य के बारे में काफी जानकारी मिल गई होगी और आप को ये ब्लॉग पसंद आया होगा.


• Minimum Support Price (MSP) Kya Hai ?

• मोबाइल में लाइव टीवी कैसे देखे ?

कर्नाटक की राजधानी क्या है ?

1. भारत का सब से बड़ा राज्य कौनसा है ?

उत्तर:- क्षेत्रफल की दृष्टि से राजस्थान भारत का सब से बड़ा राज्य है

2. राजस्थान का राज्य पक्षी कौनसा है ?

उत्तर:- गोडावण नाम का बड़े आकार वाला पक्षी राजस्थान का राज्य पक्षी है ये पक्षी भारत के राजस्थान तथा सीमावर्ती पाकिस्तान में पाया जाता है.

3. राजस्थान का राज्य खेल क्या है ?

उत्तर:- राजस्थान का राज्य खेल बास्केटबॉल है.

4. राजस्थान में कुल कितने जिले है ?

उत्तर:- राजस्थान में कुल 33 ज़िले है.

5. राजस्थान का सब से बड़ा जिला कौनसा है ?

उत्तर:- राजस्थान का सब से बड़ा जिला जैसलमेर है.

6. राजस्थान का सब से छोटा जिला कौनसा है ?

उत्तर:- राजस्थान का सब से छोटा जिला धौलपुर है.

7. राजस्थान का पुराना नाम क्या था ?

उत्तर:- राजस्थान का पहला नाम राजपूतना था ब्रिटिश काल में राजस्थान को राजपूताना नाम से जाना जाता था.

8. राजस्थान का कुल क्षेत्र फल कितना है ?

उत्तर:- राजस्थान कुल क्षेत्र फल 342239 वर्ग किलोमीटर है शेत्र फल की दृष्टि से राजस्थान भारत का सब से बड़ा राज्य है.

9. राजस्थान की जनसंख्या कितनी है ?

उत्तर:- 2011 की जनगणना के अनुसार राजस्थान की जनसंख्या 68,548,437 है.

10. Rajasthan ki rajdhani जयपुर शहर की नींव किसने और कब राखी ?

उत्तर:- राजस्थान की राजधानी जयपुर शहर की नींव राजा जयसिंह द्वितीय ने 1727 में राखी.

11. राजस्थान के वर्तमान मुख्यमंत्री कौन है ?

उत्तर:- अशोक गहलोत राजस्थान के वर्तमान मुख्यमंत्री है.

इसे भी पढ़ें

Post a Comment

Previous Post Next Post